Monday, Jun 17, 2024
Rajneeti News India
Image default
रोजगार

State Bank Of India ने ग्राहकों के लिए शुरू की नई सर्विस, ब्रांच जाने की टेंशन खत्म

कोरोना की इस टेंशन के बीच देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक SBI-State Bank of India ने वीडियो केवाईसी शुरू कर दी है। अब बैंक में खाता खुलवाने के लिए कहीं भी जाने की जरुरत नहीं है। ब्लकि, घर बैठे वीडियो के जरिए इस काम को निपटा सकेंगे। आपको बता दें कि पिछले साल RBI ने बैंकों को वीडियो केवाईसी करने से जुड़े नियमों में बदलाव किया था।

एसबीआई के चेयरमैन दिनेश खारा का कहना है कि ऑनलाइन बचत बैंक खाता खोलने की सुविधा की घोषणा करते वक्त बहुत खुशी हो रही है जो मौजूदा महामारी की स्थिति में बहुत आवश्यक है। हमें विश्वास है कि यह पहल मोबाइल बैंकिंग में एक नया आयाम जोड़ेगी और ग्राहकों को उनकी बैंकिंग जरूरतों के लिए डिजिटल होने के लिए सशक्त बनाएगी।

YONO के जरिए खोल सकेंगे खाता

  • भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने अपने मोबाइल बैंकिंग ऐप – YONO पर एक वीडियो KYC आधारित खाता खोलने की सुविधा शुरू की है। अब ग्राहक बिना ब्रांच जाए खाता खोलने से जुड़े सभी काम को निपटा सकते है।
  • आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) और फेशियल रिकॉग्निशन टेक्नोलॉजी द्वारा संचालित यह डिजिटल प्लेटफॉर्म एक संपर्क रहित और पेपरलेस प्रक्रिया है।
  • यह वीडियो केवाईसी सुविधा एसबीआई के साथ एक नया बचत खाता खोलने की योजना बना रहे ग्राहकों के लिए उपलब्ध होगी।
  • इस नई सुविधा का लाभ उठाने के लिए, योनो ऐप डाउनलोड करना होगी। ‘न्यू टू एसबीआई’ पर क्लिक करें और ‘इंस्टा प्लस बचत खाता’ चुनें।
  • ऐप में अपना आधार विवरण दर्ज करना होगा और आधार प्रमाणीकरण पूरा होने के बाद पर्सनल इन्फोर्मेशन डालनी होगी।
  • केवाईसी प्रक्रिया को पूरा करने के लिए वीडियो कॉल शेड्यूल करना होगा। वीडियो केवाईसी के सफल समापन पर, खाता खुल जाएगा।

क्या होता है केवाईसी

  • KYC किसी ग्राहक के बारे में पूरी जानकारी जुटाने की प्रक्रिया होती है। इसकी फुल फॉर्म नॉ योर कस्टमर होती है। फाइनेंशियल सर्विस लेने वाले सभी ग्राहकों के लिए केवाईसी कराना जरूरी है।
  • बैंक किसी वित्तीय संस्थान और ग्राहक के बीच KYC रिश्ते को मजबूत करता है। बिना केवाईसी निवेश मुमकिन नहीं है, इसके बगैर बैंक खाता भी खोलना आसान नहीं है।
  • केवाईसी के जरिए यह सुनिश्चित किया जाता है कि कोई बैंकिंग सेवाओं का दुरुपयोग तो नहीं कर रहा है। केवाईसी फॉर्म ऑनलाइन भी भरे जाते हैं लेकिन दस्तावेज और फोटो के सत्यापन के लिए एक बार बैंक जाना जरूरी होता है।

अब वीडियो केवाईसी के बारे में जानते है

  • वीडियो केवाईसी करवाने के लिए आवेदक के पास एक एक स्मार्टफोन होना चाहिए और अच्छी इंटरनेट कनेक्टिविटी हो। बैंक आवेदन के वक्त संपूर्ण आधार ओटीपी-आधारित ईकेवाईसी (e kyc) होना जरूरी है। इसके साथ ही आवेदक के हाथ में पैन कार्ड की मूल प्रति होना चाहिए। बैंक अधिकारी यह भी ध्यान रखेंगे कि आवेदक उस समय भारत में मौजूद हों।
  • वीडियो केवाईसी के दौरान बैंक के अधिकारी सबसे पहले ग्राहक की जानकारी की पुष्टि करते हैं। उसके बाद वह ग्राहक का फोटो खींचते हैं।
  • ग्राहक जब पैन कार्ड की ओरिजिनल कॉपी दिखाते हैं, तब उसका फोटो लिया जाता है। इतने में ही बैंक खाता खुल जाता है। लेकिन खाता को एक्टिवेट करने से पहले वीडियो केवाईसी के ऑडियो-वीडियो संवाद का सत्यापन किया जाता है।

Related posts

भाजपा की हवा बिल्कुल टाइट है मांधाता कांग्रेस ही जीतेगी

News Team

फाइजर ने भारत में इमरजेंसी अप्रूवल के लिए दिया गया आवेदन वापस लिया, दो दिन पहले ही एक्सपर्ट कमेटी ने मांगी थी ट्रायल की जानकारी

News Team

मार्च में ही खरीद डालें इलेक्ट्रॉनिक सामान, अप्रैल से 20 फीसदी बढ़ जाएंगे एसी-फ्रिज-एलईडी टीवी के दाम

News Team