Monday, Jun 17, 2024
Rajneeti News India
Image default
व्यापार

भारत के साथ व्यापार बढ़ाने के लिए अमेरिका को दूर करनी होंगी ये बाधाएं

अमेरिका के एक शीर्ष व्यापार पैरोकारी समूह ने कहा है कि यदि वाशिंगटन छात्रों की मुक्त आवाजाही के लिए वीजा और प्रवेश प्रतिबंध जैसी बाधाओं को खत्म कर दे, तो दोनों देशों के बीच शिक्षा सेवाओं के द्विपक्षीय व्यापार में भारी तेजी आ सकती है।

अमेरिका भारत रणनीतिक एवं साझेदारी मंच ने कहा कि ‘अंतरराष्ट्रीय शिक्षा’ आदान-प्रदान पर 2020 मुक्त द्वार रिपोर्ट के मुताबिक 2019-20 के शैक्षणिक वर्ष के दौरान भारत, अमेरिका में अंतरराष्ट्रीय छात्रों का दूसरा सबसे बड़ा स्रोत था।

इस दौरान भारतीय छात्रों की संख्या में चार प्रतिशत की गिरावट हुई, लेकिन 193,124 छात्रों के साथ अमेरिका में उच्च शिक्षा पा रहे अंतरराष्ट्रीय छात्रों में भारत की 18 प्रतिशत हिस्सेदारी थी। मुक्त द्वार रिपोर्ट को हाल में अमेरिकी गृह मंत्रालय के शिक्षा एवं संस्कृति मामलों और अंतरराष्ट्रीय शिक्षा संस्थान के ब्यूरो ने जारी किया था।

यूएसआईएसपीएफ ने कहा कि दोनों देशों के बीच व्यापार और निवेश के लिहाज से उच्च शिक्षा खंड में अपार संभावनाएं हैं और जो दोनों देशों की आर्थिक वृद्धि के लिहाज से भी महत्वपूर्ण है।

Related posts

Share Market Today: शेयर बाजार में शानदार तेजी, Sensex फिर 51,000 के पार बंद, इन शेयरों ने मचाया धमाल

News Team

Home Loan: SBI पर कोरोना महामारी का असर, बेसिक ब्याज दर घटाकर 6.70 प्रतिशत की

News Team

दिवाली पर गिफ्ट लेना और देना पड़ न जाए भारी! और मिल जाए टैक्स नोटिस, जानिए सभी नियमों के बारे में…

News Team