Monday, Jun 17, 2024
Rajneeti News India
Image default
व्यापार

ICICI Bank ने शुरू की अनोखी सर्विस, बिना बैंक खाते के भी UPI से कर सकेंगें Payment

ICICI Bank ने बुधवार को एक यूनीक फैसिलिटी लॉन्च की है। इसके तहत ग्राहकों को UPI ID का इस्तेमाल करके ट्रांजेक्शन करने के लिए बैंक खाते की जरूरत नहीं होगी। देश के बड़े निजी बैंकों में से एक ICICI Bank ने डिजिटल वॉलेट ‘पॉकेट’ को लेकर एक नई सर्विस की शुरुआत की है। बैंक के डिजिटल पॉकेट (Digital pocket) को आप UPI (Unified Payments Interface) ID से लिंक कर सकते हैं, लेकिन इसके लिए आपको सेविंग बैंक अकाउंट की जरूरत नहीं होगी।

बिना अकाउंट UPI ID से लिंक डिजिटल पॉकेट
अभी UPI ID को सिर्फ सेविंग बैंक अकाउंट (Bank Account ) से ही लिंक किया जा सकता है। नए यूजर्स जो कि ICICI Bank के कस्टमर नहीं भी हैं, वो भी तुरंत UPI ID हासिल कर सकते हैं, जो कि ऑटोमैटिक तरीके से पॉकेट से लिंक हो जाएगा। जिन ग्राहकों के पास पहले से ही UPI ID है उन्हें एक नया ID मिलेगा जब वो ‘Pockets’ ऐप में लॉग इन करेंगे। ICICI बैंक इस सुविधा को शुरू करने वाला पहला बैंक है।

इस पहल से यूजर्स UPI का इस्तेमाल करते हुए रोजाना की छोटी-मोटी खरीदारियां अपने पॉकेट से कर सकेंगे, जो कि बेहद सुरक्षित तरीका है। इसका दूसरा फायदा है कि उनके सेविंग बैंक अकाउंट में इन छोटी-मोटी ढेर सारी खरीदारियों की एंट्री नहीं होगी, जिससे उनके स्टेटमेंट रिकॉर्ड (Statement record) साफ सुधरे रहेंगे। इस सुविधा का फायदा कॉलेज जाने वाले स्टूडेंट्स को होगा, जिनके पास आमतौर पर कोई सेविंग अकाउंट नहीं होता है।

कैसे करें इस्तेमाल
नए यूजर्स को सबसे पहले बैंक का ‘पॉकेट्स’ ऐप को डाउनलोड करना होगा फिर लॉग-इन करने पर यूजर्स के रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर के आधार पर अपने आप एक ‘पॉकेट्स’ VPA क्रिएट हो जाएगा। उदाहरण के लिए 9999xxxxxx@pockets, इसमें 9999xxxxxx रजिस्टडर्ड मोबाइल नंबर है। UPI ID बनाने के लिए किसी बैंक अकाउंट के डिटेल की जरूरत नहीं पड़ेगी। इसके अलावा, यूजर ऐप के भीतर ‘BHIM UPI’ के तहत ‘मॉडिफाई’ विकल्प के जरिए अपनी पसंद की आईडी में ऑटो-क्रिएटेड UPI ID को बदल सकता है। जबकि मौजूदा यूजर अपने ‘पॉकेट्स’ ऐप को नए एडिशन में अपडेट कर सकता है।

किसको कर सकते हैं पेमेंट्स
ICICI बैंक ने UPI नेटवर्क को डिजिटल वॉलेट पॉकेट से लिंक करने के लिए NPCI के साथ करार किया है। जिसके जरिए कस्टमर्स (Customers) पॉकेट के जरिए पैसों का भुगतान कर सकते हैं, पैसे मंगवा सकते हैं, इसके लिए उन्हें अपने सेविंग बैंक अकाउंट का इस्तेमाल करने की जरूरत नहीं होगी। पॉकेट डिजिटल वॉलेट के यूजर्स UPI ID का इस्तेमाल करते हुए P2P पेमेंट्स कर सकते हैं, यानी किसी व्यक्ति के बैंक अकाउंट में पैसे भेज सकते हैं, या कॉन्टैक्ट में किसी को पैसे भेज सकते हैं। यूजर्स P2M (person to merchant) पेमेंट्स भी कर सकते हैं। जैसे- मर्चेंट की वेबसाइट पर ऑनलाइन पेमेंट या फिर QR कोड के जरिए भुगतान भी किया जा सकता है। यूजर्स को इन पेमेंट्स पर रिवॉर्ड्स भी मिलते हैं।

Related posts

केजरीवाल सरकार की इस योजना की तारीफ, जानें दिल्ली के वकील कैसे उठा रहे लाभ?

News Team

Post Office MIS : केवल 1000 रुपए लगाकर हर महीने पाएं 4950 रुपए, गारंटी के साथ

News Team

भाजपा की हवा बिल्कुल टाइट है मांधाता कांग्रेस ही जीतेगी

News Team